भीलवाड़ा-सहित-कई-जिलो-में-आंधी-तूफान-बारिस-की-संभावना

भीलवाड़ा सहित कई जिलो में आंधी तूफान बारिस की संभावना




भीलवाड़ा ।जयपुर। प्रदेश में कई जगहों पर सोमवार को दोपहर बाद मौसम ने अचानक पलटा खाया। सुबह से तेज धूप के बाद तीन बजे काले बादल छा गए। इसके बाद धूलभरी तेज हवाओं के साथ बारिश हुई। राजसमंद में आकाशीय बिजली गिरने से छह वर्षीय बच्चे की मौत हो गई व तीन घायल हो गए। घटना रेलमगरा थाना क्षेत्र के खड़बामनिया पंचायत के दामोदरपुरा गांव की बताई जा रही है। बीकानेर में भी आसमानी बिजली गिरने से एक व्यक्ति गंभीर घायल। घायल को ट्रोमा सेंटर में भर्ती कराया है। श्रीगंगानगर और बीकानेर में बारिश के साथ ओले भी गिरे। जयपुर में शाम को तेज हवाएं चली। इससे तेज गर्मी से राहत मिली लेकिन धूल से लोग परेशान हुए।मौसम विभाग के अनुसार 16 अप्रेल को पूर्वी राजस्थान के कई इलाकों में मौसम का मिजाज लोगों को प्रभावित करेगा। विभाग के बुलेटिन के अनुसार इस दौरान कई स्थानों पर 60 से 70 किलोमीटर की रफ्तार से धूल भरी आंधी, मेघगर्जना, ओलावृष्टि, बिजली गिरने के साथ ही हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होगी। इनमें प्रभावित जिले सीकर, झुंझुनूं, टोंक,सवाई माधोपुर, अजमेर, अलवर, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, चितौडगढ़़, दौसा, धौलपुर, जयपुर, झालावाड़, करौली, कोटा है। 17 अप्रेल को उत्तरी राजस्थान के अलवर, भरतपुर, दौसा, धौलपुर, करौली जिला शामिल है। मांडल (चन्द्रशेखर तिवाड़ी) -- सोमवार दोषहर बाद अचानक बदले मौसम ने धूलभरी आंधी आने का एहसास कराया। लेकिन थोड़ी देर बाद ही रिमझिम बारिश शुरू हुईं जो रुक रुक कर देर शाम तक होती रही। बार बार हो रही बरसात से मौसम ठंडा होकर खुशनुमा हो गया।
news news news