boltBREAKING NEWS

जिला प्रशासन ने अक्षय तृतीया पर रुकवाए 8 बाल विवाह 

जिला प्रशासन ने अक्षय तृतीया पर रुकवाए 8 बाल विवाह 

भीलवाड़ा। जिला बाल संरक्षण इकाई द्वारा संचालित चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 पर प्राप्त जिले में विभिन्न बाल विवाह की सूचना पर जिला प्रशासन द्वारा अक्षय तृतीया पर 8 बाल विवाह रुकवाएं गए। 

उपखंड अधिकारी आव्हाद निवृत्ति सोमनाथ के निर्देशानुसार बडलियास पुलिस की सहायता से 1 बाल विवाह, प्रतापनगर पुलिस की सहायता से 1 एवं मंगरोप पुलिस की सहायता से 1 बाल विवाह रुकवाया गया।मांडलगढ़ तहसीलदार के सहयोग से बरुंधनी में 1,जहाजपुर उपखंड अधिकारी, बाल कल्याण समिति एवं तहसीलदार से संपर्क कर शकरगढ़ पुलिस के सहयोग से 1 एवं पंडेर पुलिस की सहायता से 1, हनुमाननगर पुलिस की सहायता से 1 तथा रायपुर पुलिस के सहयोग से 1 बाल विवाह रुकवाया गया।

उपखंड अधिकारी  आव्हाद निवृत्ति सोमनाथ ने बताया क‍ि भीलवाड़ा प्रशासन द्वारा बाल विवाह की रोकथाम के लिए किए गए जागरूकता अभियान एवं प्रशासन की सख्ती के कारण चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 एवं बाल विवाह नियंत्रण कक्ष पर सूचना प्राप्त होने पर अक्षय तृतीया पर होने वाले बाल विवाह को रोका गया। 

जिला बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक मोहमद अशफाक खान ने बताया कि  जिला कलक्टर नमित मेहता के निर्देशानुसार और राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग के निर्देशों की अनुपालन में अक्षय तृतीया के अवसर पर होने वाले बाल विवाह की रोकथाम के लिए जिले में जागरूकता अभियान चलाया गया एवं बाल विवाह की रोकथाम में पंच एवं सरपंच एवं सभी विभागों की भूमिका के लिए उनसे संपर्क कर बाल विवाह रोकथाम की सूचना पहुचाई गई, जिसके परिणामस्वरूप जिले में अक्षय तृतीया के अवसर पर 8 बाल विवाह रुकवाए गए।